Web  hindi.cri.cn
ताओफ़ू कांउटी के वृद्ध आश्रम में पिता और पुत्र की भावना
2015-04-30 16:25:45 cri

हाथ में पकड़े हुए सूत्र चक्र को घुमाती हुईं बढ़ी मां

हान जाति के बुढ़े छन को वृद्धावस्था में पुत्र जैसे तिब्बती जाति के श्याओ रेअतंग से मुलाकात हुई, यह उनके लिए सौभाग्य की बात है। ताओफ़ू कांउटी के प्रचार विभाग में कार्यरत कर्मचारी चंग हाओ एक बार बुढ़े छन को देखने गए। उन्होंने गंभीर बीमारी से ग्रस्त छन से सुना कि वे श्याओ रेअतंग का बहुत आभारी है। इसकी चर्चा करते हुए चंग हाओ ने कहाĄG

"श्याओ रेअतंग बुढ़े छन युआनता की देखभाल करते थे। बुढ़े छन ने मुझसे कहा था कि श्याओ रेअतंग के बिना वे इतने लम्बी आयु नहीं जी पाते। यह बुढ़े छन के मन की बात है।"


1 2 3 4 5 6 7
आप  की  राय  लिखें
© China Radio International.CRI. All Rights Reserved.
16A Shijingshan Road, Beijing, China. 100040