rIr氞えr屲r氞ぞr囙えrrߓrたr~ぞ r˓rZrrߓrr_ぐjいj/a>

r氞r rrZぇrZえrߓErむrZ r r栢^jくrZErr曕 r曕rZr忇ざrWくrr曕 rぇrWXrZぐrWX r~ぞrむrZぞ rhrZ rr/h1>
2019-04-10 14:44:09
rhr~ぐ
rhr~ぐ Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

r曕rZr忇ざrWくrZK rrZぇrZえ rߓErむrZ rrrr曕riたrr曕 rたrߓErむrZぃ rぐ r氞r rrZぇrZえrߓErむrZ r r栢^jくrZErr 9 rおjぐj堗げ r曕 rhぞrr曕 rMぜrZZjぐj囙が rさrZK rぁjぁjrぐ rすj̓Er氞Xrrおr r曕rZr忇ざrWくrr曕 rぇrWXrZぐrWX r~ぞrむrZぞ rhrZ r曕jrIぞrr ri rがrZriえrW] rߓrrくjϓ_rWい r氞rrぇjく r忇さrrrZri r~rZrrr_rhrr曕 rrむぞr撪E r曕 ("16 + 1") 8 rirrrX rߓrr_ぞrrrRZj囙イ

rrZぇrZえrߓErむrZ rrrXjさrW], rZ䨠䕠पत्नी और क्रोएशियाई सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने हवाई अड्डे पर ली खछ्यांग का हार्दिक स्वागत किया। ली खछ्यांग ने कहा, दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना के बाद से यह चीनी प्रधानमंत्री की पहली यात्रा है। चीन और क्रोएशिया के बीच द्विपक्षीय संबंधों का आपसी सम्मान, समानता और पारस्परिक लाभ के आधार पर विकास होना चाहिये। ली खछ्यांग का कहना है कि इस यात्रा से चीन और क्रोएशिया के बीच पारंपरिक मित्रता को मज़बूत करने, राजनीतिक विश्वास बढ़ाने और दोनों देशों की विकास रणनीति को मज़बूत करने के लिए तत्पर हैं, ताकि चीन क्रोएशिया के बीच व्यापक साझेदारी संबंधों को एक नए उच्च स्तर पर बढ़ावा दें।

ली खछ्यांग ने बताया कि वर्तमान "16 + 1 सहयोग" ने उल्लेखनीय परिणाम मिले हैं और क्रॉस-क्षेत्रीय सहयोगों में एक गतिशील तंत्र बन गया है। यह चीन के यूरोपीय देशों के साथ सहयोग करने का एक नया रास्ता है।

यात्रा के दौरान, ली खछ्यांग क्रोएशियाई प्रधानमंत्री प्लेनकोविच के साथ बातचीत करेंगे। साथ ही चीन- क्रोएशियाई सांस्कृतिक पर्यटन वर्ष के उद्घाटन समारोह में भाग लेंगे। वे पेलेज़ेक ब्रिज परियोजना का निरीक्षण करेंगे और दोनों पक्षों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करेंगे।

अंजली

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories