चीनी मानवाधिकार अनुसंधान संघ ने जिनेवा में शिनच्यांग से जुड़ी बैठक आयोजित की

2019-09-17 11:01:08
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 42वें सम्मेलन के दौरान चीनी मानवाधिकार अनुसंधान संघ ने 16 सितंबर को जिनेवा के पैलेस देस नेशंस में एक बैठक आयोजित की। बैठक का विषय है, शिनच्यांग में उग्रवाद खत्म करने की लड़ाई और मानवाधिकार की सुनिश्चितता। संबंधित विशेषज्ञों ने शिनच्यांग में उग्रवाद के खात्मे के पक्ष में उठाये गये कदमों और प्राप्त किये गये अनुभवों, तथा मानवाधिकार की सुनिश्चितता में प्राप्त उपलब्धियों का परिचय दिया। कई देशों की सरकारों, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों समेत 50 से अधिक लोगों ने इस बैठक में भाग लिया।

बैठक की अध्यक्षता चीनी मानवाधिकार अनुसंधान संघ के उप महासचिव वू लेइफ़ंग ने की। वू के अनुसार चीन के शिनच्यांग क्षेत्र में हिंसक आतंकवादी शक्ति, धार्मिक उग्रवादी शक्ति और राष्ट्रीय अलगाववादी ताकत सक्रिय हैं। खास तौर पर धार्मिक उग्रवाद के प्रसार-प्रचार से न सिर्फ़ शिनच्यांग की विस्तृत जनता के बुनियादी मानवाधिकारों को हानि पहुंची, बल्कि शिनच्यांग हिंसक आतंकवादी कार्रवाई का केंद्र भी बन गया। इस के प्रति हाल के कई वर्षों में शिनच्यांग में सिलसिलेवार कदम उठाये गये, और अच्छा परिणाम भी मिला। शिनच्यांग में सुरक्षा की स्थिति मूल से बेहतर हो चुकी है। हिंसक व आतंकवादी घटनाओं की संख्या में बहुत कमी आयी है। और जनता के विभिन्न बुनियादी मानवाधिकारों की रक्षा कारगर रूप से की गयी।

चंद्रिमा

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories