rIr氞えr屲r氞ぞr囙えrrߓrたr~ぞ r˓rZrrߓrr_ぐjいj/a>

r~r忇え rIrZXjしrrぐrWしrrZいjいrrrZri rIrZたr~ぞ r曕 rIrムたrむた rぐ r氞たrRいrWい

2019-10-17 16:39:34
rhr~ぐ
rhr~ぐ Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

rIEr~r曕rrZぞrTrerrIrZXjしrrぐrWしrr 16 rXjいjRがrr曕 rZいjいrrrZri rIrZたr~ぞ r曕 rIrムたrむた rぐ rΓErむぐrWX riたr氞ぞrriたrぐjざ r曕たr~ぞ r_ぐ r~r忇え r曕 rぇjく rrZrr忇さrr忇ざrWくrrrZざrZErrぞrげjϓE r曕 rIすrZくrrすrZじr氞たrrߓrぎjぎrr栢ぞrたrr栢rZ, rߕ`_Dبࠤ䮠L䮠䲠勠䂠के उप महासचिव मार्क लोकोक की रिपोर्ट सुनी। सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने उत्तर-पूर्वी सीरिया की स्थिति और सीरिया में तुर्की की सैन्य कार्रवाई पर चर्चा की। परामर्श के बाद आम सहमति प्राप्त की गई है, सुरक्षा परिषद के रोटेटिंग अध्यक्ष राजदूत जेरी मतजिला ने कहा कि सुरक्षा परिषद सीरिया में मानवीय स्थिति के प्रति चिंतित है।

संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी प्रतिनिधि राजदूत चांग जून ने कहा कि चीन उत्तर-पूर्वी सीरिया की स्थिति पर ध्यान केंद्रित रखता है। वर्तमान में तुर्की ने सीरिया में सैन्य कार्रवाई की, यह सीरिया की आतंकवाद विरोधी स्थिति और मानवीय स्थिति के लिए नुकसानदेह है।

उन्होंने कहा कि चीन हमेशा अंतरराष्ट्रीय संबंधों में बल प्रयोग का विरोध करता है, संबंधित पक्षों को संयुक्त राष्ट्र चार्टर और अंतरराष्ट्रीय संबंधों के बुनियादी सिद्धांत के आधार पर समस्या का हल करना चाहिए। हमें सीरिया की संप्रभुता, स्वतंत्रता, एकता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करना चाहिए। चीन ने तुर्की से सैन्य कार्रवाई रोकने की अपील करते हुए राजनीतिक तरीके से समस्या का हल करने की बात कही।

(मीरा)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories