20 अक्तूबर 2019

2019-10-20 21:11:00
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn


दुनिया से 7 साल पीछे है यह देश, अभी भी चल रहा है साल 2012

पूरी दुनिया में सन 2019 चल रहा है, हम आपसे से कहे कि दुनिया में ऐसी भी जगह जो सात साल पीछे चल रहा है। आप शायद इस बात पर यकीन करें या नहीं लेकिन ये सच है। एक देश ऐसा भी है जहां अभी भी सन 2012 चल रहा है। यानी इस देश के लोग बाकी दुनिया से 7 साल पीछे हैं। यही नहीं, इस देश में एक साल 13 महीनों का होता है। ऐसे में आप खुद ही समझ सकते हैं कि आखिर यह देश बाकी देशों से 7 साल पीछे क्यों चल रहा है। दोस्तों, मैं बात कर रहा हूं इथियोपिया देश की, जहां पर आज साल 2019 नहीं बल्कि 2012 चल रहा है जो कि दुनिया के तमाम देशों से 7 साल पीछे है। इस देश की आबादी महज 10 करोड़ के आसपास है। ख़ास बात ये है कि जहां दुनिया के तमाम देश 1 जनवरी को अपना नया साल मनाते हैं वहीं इथियोपिया के निवासी 11 सितंबर को अपना नया साल मनाते हैं।

दरअसल, इथियोपिया वासियों का अपना खुद का कॉप्टिक कैलेंडर है जिसके हिसाब से वो चलते हैं। वहीं दुनिया के तमाम देश एक ही ग्रिगोरियन कैलेंडर के हिसाब से चलते हैं और उनके त्योहार भी इसी कैलेंडर के हिसाब से होते हैं। इथियोपिया के निवासी ऐसा मानते हैं कि ईसा मसीह का जन्म 7BC में हुआ था और इसी हिसाब से यहां दिनों की गिनती शुरू हुई, जिसके बाद कॉप्टिक कैलेंडर का निर्माण किया गया। इथियोपिया में कोई भी त्यौहार उस दिन नहीं मनाया जाता है जब पूरी दुनिया उस त्योहार को मना रही होती है।

नूडल्स से ही बना डाला अपने बच्चे के लिए घर, अब लोगो से मिल रही ऐसी प्रतिक्रिया

आप सभी ने नूडल्स का स्वाद तो चखा ही होगा। ज्यादातर सभी लोगों को नूडल्स पसंद हैं। कभी-कभी नूडल्स के खराब हो जाने पर हम उसे फेंक देते हैं। लेकिन आज मैं आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रही हूं जिसने नूडल्स को फेंकने की जगह उसका ऐसा इस्तेमाल किया कि सभी लोग उनकी बहुत तारीफ कर रहे हैं। इस शख्स ने बेकार हुए नूडल्स से अपने आने वाले बच्चे के लिए घर बना डाला। जी हां, ये सच है। चांग नाम के शख्स ने इस अनोखे घर को तैयार किया है। इस प्लेहाउस को बनाने के बाद चांग ने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की। तस्वीरों के वायरल होते ही वो सुर्खियों में आ गए।

चांग ने बताया कि उन्होंने एक्सपायर हो चुके 2000 नूडल्स के पैकेट की मदद से इस घर को बनाया है। आमतौर पर किसी घर को बनाने में ईंट का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन चांग ने नूडल्स को ही ईंट की तरह इस्तेमाल करते हुए इस घर को बना दिया। चांग ने बताया कि मेरा एक दोस्त नूडल्स का होलसेलर है। उसके पास एक्सपायर हो चुके नूडल्स का एक बैच पड़ा हुआ था। वह खराब हो चुके इन नूडल्स के पैकटों को फेंकना चाहता था, लेकिन मैंने उसे ऐसा करने से रोक दिया। मैंने इन्हीं नूडल्स के पैकटों की मदद से इस घर को बना दिया। चार स्कवायर मीटर के क्षेत्र में बने इस घर में एक बेड भी लगा हुआ है। इस बेड पर एक व्यस्क इंसान भी आराम से सो सकता है। घर में लाइट्स भी लगे हुए हैं। यहीं नहीं, चांग ने इस घर में खिड़की भी बनाई है। नूडल्स की मदद से बना यह प्लेहाउस इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है।

सोशल मीडिया पर वायरल चांग के इस काम की कुछ लोग तारीफ कर रहे हैं तो कुछ लोग इसकी आलोचना भी कर रहे हैं। आलोचना करते हुए कुछ लोगों ने कहा कि एक्सपायर हो चुके इन नूडल्स को अगर बच्चे ने गलती से खा लिया तो परेशानी हो सकती है। यही नहीं, कुछ लोगों ने कहा कि खराब हो चुके नूडल्स कई तरह के कीड़े और बीमारियों को भी जन्म देते हैं। बच्चे के स्वास्थ्य के लिहाज से इस घर को बनाना सही नहीं है।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories