चीन ने खेल शक्ति के निर्माण को राष्ट्रीय आर्थिक व सामाजिक विकास की आम योजना में शामिल किया

2019-09-16 10:58:38
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी राज्य परिषद के कार्यालय ने हाल ही में खेल शक्ति निर्माण कार्यक्रम जारी किया ।इस में कहा गया कि वर्ष 20540 तक चीन चौतरफा तौर पर समाजवादी आधुनिक खेल शक्ति का निर्माण पूरा करेगा। साथ ही जनता की शारीरिक स्थिति और स्वास्थ्य स्तर ,खेल की चतुर्मुखी शक्ति और अंतरराष्ट्रीय प्रभाव को विश्व में अग्रसर रहेगा। इससे खेल चीनी राष्ट्र के महान पुनरुत्थान का प्रतीकात्मक कार्य बन जाएगा ।सरकार ने खेल शक्ति के निर्माण को राष्ट्रीय आर्थिक और सामाजिक विकास की आम योजना में शामिल किया है ।

चीन की सत्तारूढ़ पार्टी सीपीसी की 19वीं कांग्रेस की कार्य रिपोर्ट में खेल शक्ति के निर्माण को गति देने का उल्लेख किया गया था ।इस बार केंद्रीय सरकार द्वारा जारी कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्तर पर खेल शक्ति के ठोस विषय , निर्माण के लक्ष्य और संबंधित कदम स्पष्ट किये गये हैं ।

चीनी राजकीय खेल ब्यूरो के उप महानिदेशक ली च्येनमिंग ने 2 सितंबर को एक प्रेस वार्ता में बताया कि इस कार्यक्रम में तीन चरणों के लक्ष्य और सार्वजनिक व्यायाम ,युवा व बाल खेल ,प्रतिस्पर्द्धात्मक खेल ,खेल व्यवसाय ,खेल संस्कृति ,खेल में वैदेशिक आवाजाही समेत 6 खंडों के विषय शामिल हैं ,जो खेल शक्ति के निर्माण की रूपरेखा हैं ।उन्होंने बताया ,पहला चरण वर्ष 2020 तक चलेगा ।इस दौरान खुशहाल समाज के अनुरूप होने वाली नयी खेल विकास व्यवस्था स्थापित की जाएगी ।दूसरा चरण वर्ष 2035 तक होगा ।इस दौरान ऐसे खेल विकास की नयी स्थिति तैयार होगी ,जिस में सरकार का मजबूत मार्गदर्शन हो ,समाज की सुव्यवस्था हो ,बाजार में जीवंत शक्ति भरी हो ,जनता की सक्रिय भागीदारी हो ,सामाजिक संगठनों का स्वस्थ विकास हो ,सार्वजनिक सेवा संपूर्ण हो ।तीसरा चरण वर्ष 2050 तक चलेगा ।इस दौरान चौतरफा तौर पर समाजवादी आधुनिक खेल शक्ति का निर्माण पूरा किया जाएगा ।

आंकड़ों से जाहिर है कि वर्ष 2017 में चीनी खेल कार्य का संवर्धित मूल्य 7 खरब 81 अरब 10 करोड़ युआन था ।वर्ष 2014 से वर्ष 2017 तक चीनी खेल कार्य के संवर्धित मूल्य में औसत सालाना वृद्धि दर 24.6 प्रतिशत थी ।इस बार जारी कार्यक्रम में कहा गया कि वर्ष 2035 तक खेल व्यवसाय राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था का स्तंभ बन जाएगा ।इस के बारे में उप महानिदेशक ली च्येनमिंग ने बताया ,खेल उभरने वाला व्यवसाय है ,जो पहले ,दूसरे और तीसरे व्यवसायों में घुल मिल सकता है ।खेल व्यवसाय का निरंतर विकास हो सकता है ,जिस में निरंतर नये उत्पाद और नये मॉडल निकलेंगे ।वैज्ञानिक आकलन के मुताबिक वर्ष 2035 में चीनी खेल व्यवसाय की मात्रा जीडीपी का चार प्रतिशत होगी ,जिसे एक स्तंभ वाला व्यवसाय बनने की संभावना है ।हम इस ओर कोशिश करेंगे और वर्तमान में अच्छा आधार भी है ।

इस खेल विकास कार्यक्रम में विशेष तौर पर फुटबाल ,बास्केटबाल और वॉलीबाल के विकास पर जोर लगाया गया ।इस के प्रति ली च्येन मिंग ने बताया कि इस का उद्देश्य समग्र खेल विकास में उन की प्रेरणात्मक भूमिका निभाना है ।उन्होंने बताया ,प्रतिस्पर्द्धात्मक खेल में चीन की बहुत परंपरागत शक्तिशाली इवेंट हैं ।लेकिन टीम इवेंट और बड़े प्रभाव संपन्न होने वाले फुटबाल ,बास्केटबाल और वॉलीबाल का विकास चीन में संतोषजनक नहीं है ।इसलिए कार्यक्रम में इन तीन बड़े बाल इवेंटों और तैराकी व ट्रेक एंड फील्ड जैसे बुनियादी खेलों के विकास पर विशेष बल दिया गया ।

विश्व कप फुटबाल की मेजबानी की चर्चा में ली च्येनमिंग ने कहा कि इस बारे में कब आवेदन करना है विभिन्न पहलुओं की स्थिति पर निर्भर होगा ,लेकिन विश्व कप का आवेदन इस कार्यक्रम में एक निर्धारित लक्ष्य है ।

(वेइतुंग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories